जामिया आरिफिया में जामिया अज़हर से आए शिक्षकों का स्वागत

0
50

जामिया आरिफिया के नज़ीम ए आला शेख़ हसन सईद सफ़वी, तर्जमान मौलाना मुजीबुर रहमान आलीमि और अन्य अज़हरी विद्यार्थीयों ने जामिया अज़हर से भेजे गये अरबी भाषा विशेषज्ञ दो शिक्षकों का लखनऊ एयरपोर्ट पर हार्दिक स्वागत किया।

वाज़ेह रहे कि इस्लामी महान ज्ञान निवास जामिया अज़हर, मिस्र अपने ज्ञान और निमंत्रण मिशन को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न देशों में अपने शिक्षकों को भेजकर इस्लामियात और अरबी भाषा की शिक्षा के प्रसारण और प्रकाशन में व्यस्त है। जामिया आरिफिया संस्थापक दाई ए इस्लाम शेख अबू सईद शाह एहसान अल्लाह मुहम्मद सफ़वी ने अपने मिस्र के विभीन दौरों में अज़हर शरीफ के उलमा और प्रतिनिधियों से मुलाक़ातें की। इमाम अकबर शेख अहमद तैयब से खुशगवार मुलाक़ात के बाद इमाम अकबर ने यह वादा किया था कि वह जामिया आरिफिया के लिए अज़हर से शिक्षकों को भेजेंगे। एक साल पहले जामिया अज़हर से भेजे हुए शेख अब्दुल लतीफ़ खल्फ अलफ़रग़ली जामिया आरिफिया में अपनी तीन वर्षीय शिक्षण सेवाओं को अंजाम दे चुके हैं। जब कि इस साल फिर अज़हर शरीफ ने जामिया आरिफिया के साथ अपने तालीमी रिश्तों को बरक़रार रखते हुए नए शैक्षणिक सत्र में फिर से दो शिक्षकों को भेजा है, जिनमें में एक अरबी भाषा विशेषज्ञ शेख मिस्बाह एवज़ुल्लाह सलीम अलयमानी और अन्य क़ुरान पढ़ने के माहिर शेख अब्दुल्लाह अहमद अब्दुर्रहमान अल-बनना हैं।

दाई ए इस्लाम शेख अबू सईद शाह एहसानुल्लाह मुहम्मदी सफ़वी ने जामिया अज़हर की इन सेवाओं को स्वीकार करते हुए शेख अल अजहर को धन्यवाद दिया और जामिया अज़हर के पक्ष में अधिक विकास और सुरक्षा की दुआएँ कीं। साथ ही अपनी ये उम्मीद जताई कि अज़हर इसी तरह अपने प्रतिनिधियों को भेजकर ज्ञान वातावरण बेहतर और इस्लाम की सब का भला करने की तालीम को बढ़ावा देने के लिए कोशिश करता रहेगा। आप ने इमाम अकबर डॉक्टर अहमद तैयब को भी दुआओं से नवाज़ा जिन की वजह से यह सिलसिला शुरू हुआ।

अतिथि शिक्षकों को लखनऊ एयरपोर्ट से कार के ज़रिये जामिया आरिफिया लाया गया, जहां विद्यालय के संस्थापक और प्रमुख दाई ए इस्लाम और जामिया के शिक्षकों और छात्रों ने वालहाना रूप में स्वागत किया।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here